Sun. May 22nd, 2022

दोस्तो आज की कहानी एक इमोशनल प्यार (most romantic love story) के ऊपर आधारित है। इस प्यार की कहानी की शूरूआत और समाप्ति कोलेज में होती है। इसलिए इस कहानी का शीर्षक इंटरनेट वाला लव (internet wala love) है।

मुझे पूरी अमीद है कि आपको यह कहानी आपको बहुत पसंद आयेगी। और इस कहानी से आपको एक सच्चे प्यार की परिभाषा मिलेगी। इस कहानी में बहुत सारे टिवस्ट है। और इस कहानी को पढ़ने में आपको बहुत आनन्द आने वाला है।

कहानी को पढ़ते समय अपना ध्यान कहानी में रखे। इससे आपको कहानी पूरा आनन्द मिलेगा। दोस्तो यह कहानी एक फिल्म स्क्रिप्ट (love story in filmy script) की तरह लिखी गयी है। काहानी बड़ी हो सकती है लेकिन इससे मिलेने वाला इंटरेस्ट भी ज्यादा होगा। और कहानी को पढ़ते समय आपको बिल्कुल भी बोरियत महसूस नही होगी।

तो चलिए शूरू करते है मजेदार प्यार की कहानी:

इंटरनेट वाला लव (internet wala love)

most romantic love story in Hindi - इंटरनेट वाला लव

यह कहानी कबीर और नैना की है। हालांकि इनके प्यार में टिवस्ट आयेगा। दोनो ही एक ही कोलेज में पढ़ते थे। लेकिन दोनो में बहुत अंतर था।

कबीर एक अमीर लड़का था तथा उसके पिता कोलेज मालिक थे। कबीर को गाने का शौक था और उसके गाने भी बहुत सुन्दर होते थे। कबीर के हर गानो पर कोलेज की लड़कियां दिवानी रहती थी। और कबीर के गाने की वजह से वह कोलेज का हिरो था।

दूसरी तरफ नैना जो मिडियम क्लास की फैमिली से थी। वह एक सामान्य लड़की की तरह रहती थी। उसका पहनावा भी सामान्य ही था। और इसी वजह से वह सुन्दर नहीं दिखती थी।

एक दिन कोलेज में गीत का सैमिनार होता है। और उस मैमिनार में कबीर एक गीत गाता है। और कोलेज के सभी विद्यार्थी उसकी धुन में खो जाते है। उसी भीड़ में नैना भी होती है। जो कबीर को पहली नजर में ही प्यार कर बैठती है।

सैमिनार खत्म होता है और सभी लड़किया कबीर के चारो तरफ से घेर लेती है। नैना उससे मिल नही पाती है। लेकिन वह हमेशा कोलेज के अंतिम समय तक कबीर का इंतजार करती और सुबह सबसे जल्दी कोलेज में कबीर से मिलने के लिए आती थी।

एक दिन नैना की कबीर से बात होती है। नैना कबीर से कहती है कि

नैना- हैलो, मैं आपके गाने की बहुत बड़ी फैन हूं। और मुझे भी गाना गाने का बहुत शौक है। क्या आप मुझे गीत गाना सिखायेंगे।

Read more:

Latest interesting love story in Hindi – इतेफाक की किताब part – 1

Latest interesting love story in Hindi – इतेफाक की किताब part – 2

चोटी चुड़ैल की डरावनी भूतिया कहानी

कबीर- ओ, हैलो! सबसे पहले अपने आप को देखो। तुम एक मिडियम क्लास की लड़की हो। और मेरे पीछे तो कोलेज की टॉप मोडल लाइन लगाकर रहती है। और तुम चाहती हो कि मैं तुम्हे गाना सिखाऊं। सोचना भी मत।

कबीर के साथ कुछ अन्य भी लड़किया होती है। जो उसका मजाक उड़ाती है। नैना यह सब सुनकर निराश होते हुए अपने कमरे में चली जाती है।

मित्रो कबीर का एक बहुत ही अच्छा दोस्त है जिसका नाम है रवि। वह उसके साथ बच्चपन से ही रहता था। उसने जब यह सब देखा तो उसने कबीर से कहा।

रवि- कबीर, यार! तुम्हे उस लड़कि से माफी मांगनी चाहिए। और उसकी आंखो में सच्चाई है। और दूसरी सभी लड़कीयां तुम्हारे पैसो से प्यार करती है। लेकिन वह लड़की तुम्हारी सच्ची फैन है।

कबीर- हे, रवि अब तुम्ह शुरू मत हो जाओ। मैं अभी मेरी गलफ्रेंड तनु के साथ जा रहा हूं। बाय।

प्यार की शुरूआत – इंटरनेट का प्यार

नैना रात को भी उसी के बारे में सोचती है। लेकिन तभी उसे कबीर का फेसबुक अकाउंट मिलता है। वह उसे हाय भेजती है। तो सामने से सॉरी का जवाब आता है। फिर उसके बाद प्यार की कुछ बाते होने लगती है। और इसी तरह से पूरी रात निकल जाती है। अंत में जवाब आता है कि

most romantic love story in Hindi - इंटरनेट वाला लव

वह कोलेज में एक सामान्य दोस्त की तरह ही रहेगा। लेकिन बाकि सभी बाते हम इसी तरह इंटरनेट पर करेंगे। और नैना को इस बात की बहुत खुशी होती है कि कबीर के दिल में भी कुछ है। भले ही वह कोलेज के सामने न लाना चाहता हो।

इस तरह नैना कोलेज में तो उसके साथ अन्य लड़कियों कि तरह बाते करती थी। लेकिन कबीर उसे कभी भी सही तरिके से बात नहीं करता था। फिर भी नैना उससे प्यार करती थी। और रात होने का इंतजार करती थी। उसके बात फिर से इंटरनेट पर बैठती थी और रात प्यार की बातो में चली जाती थी।

यह इंटनेट वाला लव एक महिने तक चलता रहता है। वे रोज रात को बाते करते थे। और इस तरह वे एक दूसरे को बहुत अच्छे से जान जाते है। लेकिन कोलेज में कभी भी सीधे मुंह बात नहीं होती थी।

एक दिन कबीर अपने सभी सहपाठियों को अपने जन्मदिन की पार्टी पर बुलाता है। नैना भी उस पार्टी में पहुंचती है। और नैना कबीर को सपराइज देने के बारे में सोचती है। नैना अपने आपको पूरी तरह से बदल देती है। वह मोडल कपड़े पहनती है। और उनमें वह सबसे ज्यादा खुबशुरत दिखने लगती है।

नैना का नया रूप – मॉडल गर्ल

सभी लोग सिर्फ उसे ही देखते रहते है। और कबीर की भी आंखे नैना से नहीं हटती है। वहां कबीर की गर्लफ्रेंड तनु भी होती है। वह उसे देखकर बहुत जलती है। कबीर उसे डांस के लिए इंवाइट करता है। और उसेक बाद नैना पूरी पार्टी के बीच कबीर को गुलाब देकर अपने प्यार का इजहार करती है।

कबीर यह देख कर हैरान हो जाता है। और तनु उसी वक्त उससे रिस्ता तोड़ देती है। लेकिन कबीर भी उससे दोस्ती तोड़ देता है। और नैना को अपना लेता है। इस तरह वे दोनो जुड़ जाते है।

लेकिन लेकिन मित्रो कहानी का ट्विस्ट तो अभी बाकि है।

पार्टी के खत्म होने के बाद कबीर घऱ पर आता है। और वह रवि से कहता है कि यार आज चमत्कार हो गया। यार आज नैना बहुत ही सुन्दर लग रही थी। आज से वह मेरी सबसे अच्छी गर्लफ्रेंड है।

रवि- कबीर, नैना तुझसे सच्चा प्यार करती है। यार उसे धोका मत देना।

Internet love story की कहानी का ट्विस्ट

इसके बाद कबीर के लेपटोप पर फैसबुक पर नैना का हेलो प्राप्त होता है। तब कबीर को पता चलता है कि नैना से सभी बाते रवि कर रहा था। और नैना रवि से प्यार करती है।

कबीर- यार रवि, मैं नैना से प्यार करता हूं। और मैने तनु से भी दोस्ती तोड़ दी है। इसलिए तुम हमारी बीच बिल्कुल मत आना। तुम्हे मेरी दोस्ती की कसम।

और दुनिया में किसी को भी नहीं पता है कि मेरे सभी गीत तुम लिखते हो तो इसी तरह यह राज़ भी किसी को पता नहीं चलना चाहिए।

रवि- ठिक है। लेकिन उसे हमेशा खुश रखना।

क्यों मित्रो कैसा लगा कहानी का ट्विस्ट। इसके बाद कबीर रवि के साथ रोज नैना से मिलता था। और कबीर रवि की मदद से नैना का प्यार जितने की कोशिश करता है। क्योंकि रवि को नैना की हर खुशी के बारे में पता होता है। उसके सोने से लेकर जागने तक की हर खुशी की जानकारी होती है।

नैना को भी थोड़ा सा शक होता है। उसे लगने लगता है कि वह कबीर से ज्यादा रवि को मेरे बारे में ज्यादा पता है। लेकिन रवि कभी भी उससे कुछ नहीं कहता है। इस तरह कई महिने बीत जाते है। आखिर में नैना कबीर से शादि के बारे में सोचने लगती है। और नैना शादी के बारे में कबीर से भी पूंछती है। लेकिन कबीर उसका जवाब नहीं देता है।

रवि भी उससे यही सवाल पूंछता है कि वह नैना से शादी कब करेगा। लेकिन कबीर किसी को भी जवाब नही देता है। और इस तरह कोलेज का पहला साल खत्म हो जाता है। और अगला साल लग जाता है। फिर एक गाने का सैमिनार होता है। और रवि कबीर के लिए बहुत ही अच्छा गाना लिखता है।

कबीर कोलेज के नये स्टूडेंट के लिए गाना गाता है। और फिर लड़कियों के बीच वह घिरा हुआ होता है। और नये लड़कियों मे उसे एक दूसरी लड़कि मिल जाती है। जो बहुत सुन्दर होती है। उसके बाद वह नैना से दूर रहने लगता है। नैना अपनी शादी की बात उससे करती है। तब कबीर जवाब देता है

कबीर- देखो नैना यह कोलेज है। इस कोलेज में तुम सुन्दरी लड़की थी और मैं कोलेज का हिरो। लेकिन अब मैं तुमसे उब चुका हुं। और अब तो और भी नयी चिड़ियाए आ चुकी है। मैं तो उन्ही के साथ खुश हुं। और तुम मेरे लिए सिर्फ एक खुबसुरत सामान थी जो अब नहीं हो। बाय।

नैना यह सुनकर बहुत दुखी होती है। और अपने कमरे में जाकर बहुत रोती है। रवि को इस बात का पता चलता है। तो वह कबीर को अपने कमरे में बुलाता है। और कहता है कि

रवि- यार मैने अपनी दोस्ती की खातिर अपने प्यार को छोड़ दिया। और तुमने मुझसे वादा किया था कि तुम उसे खुश रखोगे।

कबीर- हां तो मैने एक साल तक उसे खुश रखा लेकिन अब दूसरी और भी लड़किया आयी है तो मैं इसके साथ बिल्कुल भी नहीं रह सकता हूं। यार मैं उब गया हूं।

रवि- तो फिर मैं भी तो बहुत पुराना हूं मझे भी छोड़ दे।

कबीर – हां, छोड़ देता लेकिन मैरे लिए गाने कौन लिखता । इसिलिए तु आज मेरा दोस्त है नही तो मैं तुम्हे कब का छोड़ देता ।

रवि- क्या। यार तुम इतने स्वार्थी हो सकते हो मैने कभी नहीं सोचा था।

नैना को सच्चाई का पता चला

मित्रो यह सभी बाते नैना सुन लेती है। रवि उसे कहता है कि यह सब झुठ है। हम तो बस ऐसे ही बाते कर रहे थे।

कबीर- नहीं नैना। तुमने जो सुना सच है। तुमने इंटरनेट पर जो भी प्यार की बाते की है वह रवि के साथ की थी। मैं तुमसे बिल्कुल भी प्यार नहीं करता हूं।

नैना- रवि! तुमने अपनी दोस्ती के लिए इतना बड़ा बलिदान दिया और कबीर जैसे इंसान को तो तुम्हारे इस दोस्ती का बिल्कुल भी महत्व नही है। रवि मैं तुमसे शादी करना चाहती हूं।

रवि भी उससे शादी करने के लिए तैयार हो जाता है। और मित्रो इस तरह वह नैना और रवि एक दूसरे से शादी भी कर लेते है। और कुछ महिनों बाद कोलेज में गीत सैमिनार का सबसे बड़ा प्रोग्राम होता है। लेकिन कबीर कुछ भी नहीं गा पाता है। और नैना उस दिन कोलेज की सबसे बड़ी सुपर स्टार बन जाती है।

और रवि तथा नैना का प्यार कोलेज का सबसे सुन्दर इंटनेट वाला लव होता है।

अंतिम शब्द of love story:

दोस्तो लड़की को कभी भी सुन्दरता से मत देखना। उसे सच्चे दिल से प्यार किया जाता है। और मित्रो अपनी सच्ची दोस्ती को कभी नहीं छोड़ना चाहिए। क्योकि इन्ही के कारण हमारी जिन्दगी होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.